दांतों को स्वस्थ रखने के लिए क्या-क्या करना चाहिए

Talk to a Dentist Now!

दांतों के बगैर जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती| ये हमारे लिए इतने महत्त्वपूर्ण है कि जीवन के अंतिम क्षण तक हमें इनकी ज़रुरत पड़ती है| अधिकांश लोग यह मानते हैं कि दांत जीवन भर साथ नहीं निभाते और बुढ़ापे में इनका निकल जाना स्वाभाविक है| लेकिन आपको शायद यह जानकर आश्चर्य होगा कि उचित देखभाल और खान-पान के द्वारा दांतों को जीवन भर स्वस्थ रखा जा सकता है|

 

आइये जानते हैं दांतों की सेहत के लिए कुछ टिप्स!

नियमित रूप से दांतों को साफ़ रखें

अपने दांतों को दिन में कम से कम दो बार ब्रश करने की आदत डालें| जहां तक हो सके, फ्लोराइड वाली टूथपेस्ट का प्रयोग करें क्योंकि उससे न केवल दांत मजबूत होते हैं, बल्कि मुंह की लम्बे समय तक कीटाणुओं से रक्षा होती है|

 

ब्रश के साथ डॉक्टर फ्लॉस करने की सलाह भी देते हैं| विशेषकर उन लोगों में जिनके दांतों के बीच में अंतर होता है, उन्हें तो फ्लॉस अवश्य करना चाहिए| दो दांतों के बीच की जगह में टूथब्रश नहीं पहुँच पाता और वहाँ कीटाणुओं का संक्रमण होने की सम्भावना होती है|

 

बहुत अधिक ठंडी या गर्म वस्तुओं से परहेज करें

बहुत अधिक ठंडी और गर्म खाद्य पदार्थ दांतों के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होते हैं| ऐसा लम्बे समय तक करने से दाँतों की ऊपरी परत डैमेज हो जाती है और आपके दांत सेंसेटिव हो जाते हैं| अर्थात उनमे तेज दर्द की टीस  उठती है जब भी आप ठंडा या गर्म खाते हैं| साथ ही इससे मुंह और गले में छाले  भी हो सकते हैं| इसलिए ऐसा करने से बचें|

 

सही भोजन करें

जी हाँ, स्वस्थ आहार स्वस्थ दांतों का आधार है| आप जो भी खाते या पीते हैं, उससे आपके दांतों को फायदा या नुकसान हो सकता हैं|

फाइबर युक्त कच्ची सब्जियां खाने से आपके दांतों की कसरत होती है और उनमे चिपके हुए कण निकल जाते हैं| इसलिए गाजर, मूली, शलजम, चुकंदर, पत्तागोभी आदि को कच्चा खाएं| कैल्शियम वाले खाद्य पदार्थ जैसे दूध, दही, पनीर, हरी सब्जियां आदि दांतों की सेहत के लिए बढ़िया है|

 

प्रोटीन वाले पदार्थों  को अपने खाने का मुख्या हिस्सा बनाएं| दही,पनीर, अंकुरित अनाज, सोयाबीन आदि प्रोटीन के बहुत अच्छे स्त्रोत हैं| मांसाहारी लोगों को अंडे, चिकन, मछली तथा मटन को खाने में नियमित रूप से शामिल करना चाहिए|

 

कोल्डड्रिंक और दूसरे कार्बोनेटेड ड्रिंक दांतों के लिए बहुत हानिकारक होते हैं| इसलिए इनसे बचें|

शकर, गुड, शहद, मिश्री, सभी मीठी चीजें आपके दांतों की दुश्मन हैं| मिठाई, केक, पेस्ट्री, चॉकलेट, सॉफ्ट ड्रिंक, मीठा दूध आदि चीनी वाले पदार्थ हैं| इन्हें खाने के बाद दांतों को साफ़ करना बेहद ज़रूरी है| खाने में शकर जितनी कम होगी, आप दांतों की सड़न से उतना ही दूर रहेंगे।

 

पर्याप्त पानी पियें

शरीर में पानी की कमी के कारण दांत कमज़ोर होने लगते हैं| पर्याप्त पानी पीने से मुंह में पर्याप्त लार बनती  है जिससे दांतों को नुकसान पहुँचाने वाले बैक्टीरिया की संख्या कम हो जाती है और मुंह के अन्दर पीएच वैल्यू (अम्ल और क्षारीयता का संतुलन) सही बनी रहती है| इसलिए पर्याप्त मात्रा  में पानी पीना ज़रूरी है|

 

नियमित रूप से डेंटिस्ट से मिलें

सबसे अंत में सबसे ज़रूरी बात! अपने डेंटिस्ट से वर्ष में दो बार मिलें और दांतों का पूरा चेकअप करवाएं| इससे दांतों को कोई नुकसान नहीं होता| कई लोग यह  मानते हैं कि दांतों के डॉक्टर से तभी मिलना चाहिए जब कोई समस्या या दर्द हो| लेकिन यह बहुत गलत रवैया है|  अगर सही समय पर इलाज करवाया जाए, तो समस्या का जल्दी समाधान हो सकता है|याद रखिये, सावधानी में ही सुरक्षा है|

 

इन सारी टिप्स पर अमल करने से आपके दांत जीवन भर आपका साथ निभाएंगे|

About Author

Share